SPG – ख़तरों के असली खिलाड़ी

SPG – ख़तरों के असली खिलाड़ी

SPG - ख़तरों के असली खिलाड़ी

आज हम आपको रूबरू करवाने जा रहे है, भारतीय सुरक्षा बलों की सबसे ख़तरनाक और विशिष्ट इकाई SPG से। SPG का फ़ुल फ़ोरम है special protection group जैसा कि नाम से ज़ाहिर है ये विशिष्ट राजनेताओं की सुरक्षा के लिए बनाया गया दल है। फ़िलहाल इसे प्रधानमंत्री की सुरक्षा तक ही सीमित कर दिया गया है SPG एक बहुत ही प्रशिक्षित इकाई है,इनका चयन सीक्योरिटी फ़ोर्सेस के टॉप ऑफ़िसर में से किया जाता है।चयन के बाद इनको दुनिया का सबसे बेहतरीन प्रशिक्षण दिया जाता है आमतौर में काले रंग के सूट बूट में नज़र आने वाले ये कमांडो काला चश्मा पहनते है ताकि ये हर व्यक्ति पर नज़र रख सके और इन्हें कोई भाँप ना सके। PM के साथ साये की तरह रहने वाले अत्याधुनिक हथियारों व हाईटेक वाहनो से सुसज्जित इन कमांडो के पास दुनिया की बेहतरीन माने जाने वाली फुल्लीऑटमैटिक guns,अन्धेरे में देख पाने वाले चश्मे,बुल्लेटप्रूफ जैकेट,दस्ताने,कोहनी व घुटने पर लगाने वाले guards होते है। इनके जूते फिसलन रहित होते है। बात करने के लिए कान पर लगे earphone या walkie talkie का इस्तेमाल ही करते है। SPG के पास दुनिया की बेहतरीन गाड़ियों का कलेक्शन है, जिनमें BMW की बखतरबंद,रेंजरोवर,tayota व BMW की एसयूवी शामिल है।भारत की सबसे सुरक्षित माने जाने वाली BMW सेवन सीरीज़ की कारमें ऐसे सिक्यरिटी sistem लगाए गए जो बम व missiles का पता लगा सकते है।इन पर ग्रेनेड का कोईअसर नहीं होत और शीशे को कोई नुक़सान नहीं होता।अगर कार के tyre पंचर भी हो जाए तो यह ९० kilometer की रफ़्तार से ३२० kilometer तक दौड़ सकती है। आख़िर PM की सुरक्षा का सवाल है SPG ने अपने चयन को सार्थक सिद्ध कर दिया है।SPG का मतलब ही १००% सुरक्षा की gaurntee है।

Leave a Reply